50+ APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi | ए पी जे अब्दुल कलाम विचार

सफलता पाने के लिए पढ़िये APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi. अब्दुल कलाम जी के यह विचार पढ़कर आपको निश्चित ही अच्छी सीख मिलेगी, जिन्हें आप अपने जीवन मे अपनाकर सफलता पा सकते हैं।

APJ Abdul Kalam Thoughts. जिनमे आपको अब्दुल कलाम जी के विचारों के साथ आपको उनका निश्चित अर्थ भी जानने को मिलेगा, तो चलिए शुरू करते हैं।


apj abdul kalam quotes


APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi


  ” बारिश के होने पर सभी पक्षी बचने के लिए अपने लिए छत ढूंढते हैं, केवल बाज ही ऐसा पक्षी है, जो कि बारिश से बचने के लिए बादलों के ऊपर उड़ता है। कठिनाइयां कैसी भी हों फर्क इस बात से पड़ता है कि आप उनका सामना किस प्रकार से करते हैं। “


  ” सफलता की कहानियों को मत सुनिए, असफलता की कहानियों को पढ़िए। सफलता की कहानियां केवल अच्छे विचार देती हैं। लेकिन असफलता की कहानियां पढ़कर सफल होने के विचार मिलते हैं। “


  ” विद्यार्थियों के प्रश्न पूछने की आदत को कभी रोके नहीं। विद्यार्थियों का प्रश्न करना उनकी विशेषता को दर्शाता है। “


  ” शिक्षा का उद्देश्य, कौशल योग्य और विशेषज्ञता का प्रयोग कर अच्छे व्यक्तित्व का निर्माण करना है। शिक्षको द्वारा ही बुद्धिशाली और ज्ञानी मनुष्य बनाए जा सकते हैं। “

abdul kalam inspirational quotes on education


 जब भी कभी अकेलापन महसूस हो, तो आकाश की तरफ देखिए, आप महसूस करेंगे कि आप अकेले नहीं हैं, पूरा ब्रह्मांड आपके साथ है।


 भविष्य बदला नहीं जा सकता। लेकिन आदतों को बदला जा सकता है। आदतों के बदलने से निश्चित रूप से भविष्य भी बदल जाएगा।


 असली शिक्षा एक इंसान की गरिमा को बढ़ाती है और उसके स्वाभिमान मे वृद्धि भी कराती है।


  “आत्मसम्मान, आत्म-निर्भरता से ही आता है।


  ” प्रत्येक राष्ट्र में लोकतंत्र होना बहुत आवश्यक है, देश की वृद्धि और सुख-शांति के लिए, प्रत्येक नागरिक की व्यक्तिगत खुशी आवश्यक है।

Also Read : Gautam Buddha Quotes

Also Read : Guru Nanak Quotes


  ” भारत को हम सबको मिलकर एक सामान्य देश से, आत्मनिर्भर राष्ट्र, समृद्ध राष्ट्र और स्वस्थ राष्ट्र बनाना होगा। “


APJ Abdul Kalam Thoughts


apj abdul kalam quotes in hindi


  ” भारत बिन परमाणु हथियारों के रह सकता है। यह हमारा सपना भी है क्योंकि हम अहिंसावादी राष्ट्र की कल्पना करते हैं। किंतु यही अमेरिका का भी सपना होना चाहिए। “


  ” समस्याओं के सामने आने पर हमें किसी भी तरह प्रयत्नशील बने रहना चाहिए। “


  ” ऐसे व्यक्ति जो मन लगा कर कार्य नहीं करते, उन्हें फल तो प्राप्त होता है, लेकिन खोखला।


apj abdul kalam thoughts


  ” अधूरे मन से किये गए कार्यों से मिली तुच्छ सफलता आस-पास के वातावरण में कड़वाहट उतपन्न कर देती है। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : बिना मन के कार्य नहीं करना चाहिए, यदि कार्य को करते हैं तो उसमें पूरा मन लगाकर कार्य करना चाहिए, यदि किसी कार्य को मन लगाकर न किया जाए तो वह कार्य कभी भी फलित नहीं होता।

यदि कार्य फलित हो भी जाए तो वह अपने खालीपन से सभी के जीवन मे खुशियों की जगह दुख और तनाव भर देता है। जीवन मे हमेशा ऐसे कर्म करने चाहिए जो कि फलित होकर अपने न सही, कम से कम दूसरों के काम अवश्य आ सके।


  ” ईश्वर ने हमारे व्यक्तित्व और मस्तिष्क को असीमित शक्तियां प्रदान की है।


अर्थात | APJ Abdul Kalam Thoughts : ईश्वर ने सभी मनुष्यों को एकसमान बनाया है। और सभी को एकसमान शक्तियां भी दी हैं। लेकिन यह मनुष्य पर ही निर्भर करता है कि वह इन शक्तियों का उपयोग किस प्रकार करता है,

वह चाहें तो अपनी शक्तियों का सदुपयोग कर महान बन सकता है, या फिर इन शक्तियों का दुरुपयोग करके अपना जीवन बर्बाद कर सकता है। अपने व्यक्तित्व को निखारने के लिए उसे प्रारम्भ से ही प्रयास करने की आवश्यकता है।


  ” हमें प्रयत्न करना कभी भी नहीं छोड़ना चाहिए। “


अर्थात | Quotes of APJ Abdul Kalam : हमेशा अपने लक्ष्य के प्रति प्रयासरत रहना चाहिए, क्योंकि प्रयास ही आपको सफलता दिलाने में सहायक होते हैं। यदि प्रयास जोर-शोर से किया जाए तो किसी भी मुश्किल कार्य कोआसानी से किया जा सकता है। प्रयास हमेशा जारी रखिये। साथ ही उन प्रयासों पर कायम रहना भी आपका ही कर्तव्य है।

Also Read : Best Moral Stories Collection

Also Read : Funny Moral Stories


ए पी जे अब्दुल कलाम

  ” यदि आप अपने कर्तव्य का सम्मान करेंगे तो आपको किसी अन्य का सम्मान करने की जरूरत नहीं पड़ेगी, और यदि आप सपने कर्तव्यों से मुह मोड़ लेंगे तो आपको सभी के सामने झुकना पड़ेगा ।”


अर्थात | Quotes by Apj Abdul Kalam : अपने कर्तव्य सभी को निभाने पड़ते हैं। यदि आप इसको पूरी निष्ठा और लगन के साथ निभाते हैं तो अपको एक अच्छा और वैभवशाली जीवन प्राप्त होता है, और आपको किसी के सामने नदमस्तक होने को जरूरत नहीं पड़ती बल्कि आपके सामने सभी नदमस्तक हुआ करते हैं।

लेकिन यदि आप उन प्रयासों को मन से नहीं करते हैं और उन प्रयासो को तुच्छ समझकर उन से मुह मोड़ने की बात करते हैं तो, निश्चित रूप से अपको कभी सफलता प्राप्त नहीं हो सकती साथ ही आपको अपनी जरूरतों के लिए भी दूसरों के सामने हाथ फैलाने पड़ते हैं। अर्थात प्रयासों के बिना आपको दूसरों के सामने झुकना पड़ता है।


  ” पक्षियों को किसी अन्य के दिशानिर्देश की आवश्यकता नहीं होती, बल्कि वे अपने ही प्रेरणा से अपने जीवन को संचालित करते हैं। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : जिस प्रकार पक्षियों में बाज बारिश से बचने के लिए किसी घरौंदे में जाने का इंतजार नहीं करता वह तो बारिश के शुरु होने के साथ ही उन बादलों से ऊपर आ जाता है, जिन के कारण वर्षा हो रही हो,

जबकि अन्य पक्षी अपने घर की तलाश में निकल पड़ते हैं।  ठीक उसी प्रकार मानव के दृष्टिकोण का भी है, वह चाहें तो अपने क्षमता से भी अधिक मेहनत करके स्वयं को कठिनाइयों से परे कर सकता है, या फिर कठिनाइयों से छिप सकता है। यह सब मानवीय प्रकृति के ही हिस्से है औऱ इसका मनोबल पर भी बहुत प्रभाव पड़ता है।


  ” जीवन और समय, संसार के दो सबसे बड़े अध्यापक हैं। “


अर्थात | Abdul Kalam Inspirational quotes : जीवन और समय व्यक्ति को सबसे बड़ी सीख देते हैं अतः ये दोनो संसार के दो सबसे बड़े और प्राथमिक शिक्षक है।जीवन हमे सीखाता है, कि कैसे जीवन चक्र में पहले जन्म होता है, और कुछ निश्चित समयान्तराल के बाद मृत्यु भी निश्चित ही होती है।  जब किसी को जीवनदान मिलता है तभी वह जीवन में कुछ सीखने लायक बनता है,

इस प्रकार एक सबसे बड़ा अध्यापक मनुष्य के लिए जीवन के समान होता है। समय व्यक्ति को अच्छे-बुरे का ज्ञान कराता है समय के कारण ही मनुष्य स्वयं को साबित कर सकता है, समय व्यक्ति को अवसर प्रदान करता है स्वयं को सिद्ध करने का, इस प्रकार समय व्यक्ति का एक और सबसे बड़ा अध्यापक अर्थात गुरु है।

Also Read : Anmol Vichar in hindi

Also Read : Lal Bahadur Shastri Quotes


ए पी जे अब्दुल कलाम विचार


  “हम अपने आज की खुशियों का बलिदान कर अपनी अगली पीढ़ी के समय को बेहतर बना सकते हैं । “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Thoughts : यदि आप कड़े प्रयासों के बाद भी अपना जीवन नहीं सुधार पाए, तो आप को अपने लिए प्रयास न कर अपने बच्चों अथवा आने वाली पीढ़ियों के लिए प्रयास करने शुरू कर देने चाहिए, क्योंकि यदि हम अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए भी कुछ नहीं कर पाए तो यह हमारी सबसे बड़ी हार होगी।

अपने प्रयास निरन्तर जारी एखने चाहिए लेकिन अपने लिए ही नहीं अपने पूरे परिवार के लिए। तभी आने वाले समय में आपकी पहचान बन पाएगी, नहीं तो आपके बच्चे ही आपको इस प्रकार भूल जाएंगे जैसे कि आप उनके परिवार के कभी थे ही नहीं। यदि अपको उन प्रयासों में अपनी प्रसन्नता का बलिदान भी देना पड़े तो आपको पीछे नहैं हटना चाहिए। तभी आप अपनी आने वाली पीढ़ी का भविष्य सुधर सकते हैं।


Abdul Kalam Thoughts


  ” यदि कोई राष्ट्र हिंसावादी राष्ट्रों से घिरा हुआ होता है तो उसे भी हिंसावादी होना पड़ेगा। “


अर्थात | Quotes of APJ Abdul Kalam : यदि कोई आपसे हिंसा रूपी व्यवहार करता है, तथा आपको भी हिंसा करने पर मजबूर कर देता है, तो आपको भी हिंसा से ही प्रतिउत्तर देना चाहिए, यह युग अहिंसावादी यूग नहीं है, जो  यदि  कोई आपको एक झापड़ मारे तो आप उसका दूसरा झापड़ भी बिना सोचे समझे खा लें।

लेकिन हां प्रारम्भ में यदि विचार-वार्ता से काम चल सकता है तो आपको हिंसा की कोई जरूरत नहीं पड़ेगी। लेकिन यदि बाहरी असामाजिक तत्वों को हटाने के लिए आपको हिंसात्मक व्यवहार भी करना पड़े या शस्त्र भी उठाना पड़े तो आपको पीछे नही हटना चाहिए।


  ” प्रतीक्षा करने वाले केवल उतना ही पाते हैं जितना कि प्रयास करने वाले छोड़ देते हैं। “


अर्थात | Quotes by Apj Abdul Kalam : प्रयास करने वाले हर हर प्रकार का कार्य कर के देखते हैं, अपने जीवन में वे बहुत से कार्यों को कर के छोड़ देते हैं और आगे बढ़ जाते हैं। लेकिन जो अवसरों के मिलने पर भी उससे भी उचित अवसर पाने के लिए प्रतीक्षा करते हैं,

उनका इंतजार किभी खत्म ही नहीं होता। उनको न ही फिर अच्छे अवसर मिल पाते हैं और न ही पीछे छूटे अवसरों में वह दुबारा कार्य कर सकते हैं। यदि उन्हें 1-2 अवसर मिल भी जाते हैं तो वे वही अवसर होते हैं, जो कि प्रयास करने वाले छोड़कर चले गए होते हैं।


  ” विज्ञान ने यह तथ्य प्रमाणित कर दिखाया है कि, संसार की प्रत्येक वस्तु लाखों की संख्या में उपस्थित परमाणुओं से बना होता है। ” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : आज का युग विज्ञान का युग है, आज विज्ञान ने बहुत ही ज्यादा उन्नति कर ली है, साथ ही उसकी उन्नति दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। आज विज्ञान की ही बदौलत पूरा विश्व एक दूसरे के साथ विज्ञान और तकनीकी के माध्यम से आपस में जुड़ गया है,

यदि विज्ञान नहीं होता तो, यह सब कभी सम्भव नहीं हो पाता। विश्व मे जितनी भी चीजें है, वे सब सूक्ष्म अणुओं द्वारा बनी है, और अथक प्रयासों के बाद यह पता चल पाया है। विज्ञान ने प्रयोगों द्वारा यह प्रमाणित किया है कि प्रत्येक वस्तु परमाणुओं से मिलकर ही बनी होती है।


  ” यदि एक मूर्ख यह समझता है, कि वह मूर्ख है तो वह अपने आने वाले समय मे महान बन सकता है, लेकिन कोई महान पुरुष यदि यह सोचता है कि वह महान है तब वह शीघ्र ही मूर्ख बन सकता है। “


अर्थात | Abdul Kalam Inspirational quotes : संसार मे सभी के पास एकसमान ही बुद्धि होती है, क्योंकि संसार मे सभी को ईश्वर ने एक समान बनाया होता है। इसलिए कोई भी मूर्ख या होशियार नहीं होता, जो भी अपनी बुद्धि का उचित उपयोग करता है वही बुध्दिमान कहलाता है।

लेकिन यदि कोई बुध्दिमान व्यक्ति यह सोचता है कि वह बहुत बुद्धिमान है, तो यह उसकी सबसे बड़ी मूर्खता होती है। अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन अच्छी बात है, किन्तु केवल कार्यों में। जो कोई अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन अपनी ख्याति को उच्च करने के लिए करता है, वह निश्चित रूप से स्वयं तो नीच होता ही है, साथ ही मूर्ख भी कहलाता है।


  ” यदि आपको सूर्य की तरह चमकना है तो निश्चित रूप से आपको सूर्य की भांति जलना औऱ तपना भी पड़ेगा। ” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | APJ Abdul Kalam Thoughts : यदि आप जीवन मे सफलता को अनुभवित करना चाहते हैं तो आपको उतना ही परिश्रम भी करना होगा, यदि आप किसी पद पर पहुंचना चाहते हैं, तो आपको उससे ऊंचे स्तर की सोच रखनी होगी, तभी आप वह पद प्राप्त कर सकते हैं। क्योंकि आज का युग बहुत ही कठिनाइयों भरा है, आपके ही जैसे कितने व्यक्ति उस ही मंजिल को पाने के लिए निरंतर प्रयास कर रहे हैं।

आपको भी यह बात समझनी होगी और अपने प्रयासों को उच्च स्तर पर जारी रखना होगा। जिस प्रकार सूर्य हमें प्रकाशित करने के लिए स्वयं निरन्तर तपता रहता है, और हमें यह आभास होता है कि हमें वह प्रकाशित कर रहा है, ठीक उसी प्रकार लोगों को आपकी मेहनत और प्रयासों से कोई मतलब नहीं होता वे केवल आपकी सफलता होने पर आपकी प्रशंसा करने के लिए आते हैं। आपको सूर्य की तरह बनने के लिए सूर्य की तरह ही पहले अपने प्रयासों की आग में तपना होगा।

Also Read : Shaheed Bhagat Singh Quotes


ए पी जे अब्दुल कलाम विचार


  ” विज्ञान मानवता के लिए एक सुंदर उपहार है, इसे बिगाड़ने की कोशिश इसे अभिशाप बनने पर मजबूर कर सकती है। “


अर्थात | Quotes of APJ Abdul Kalam : विज्ञान की दृष्टि से संसार को देखा जाए तो, संसार में होने वाली हर घटना के पीछे कोई न कोई विज्ञान छिपा ही होता है, विज्ञान न केवल धरती में बल्कि पूरे ब्रह्मांड में होने वाली प्रत्येक घटनाओं के लिए एक सटीक तर्क प्रस्तुत करता है। विज्ञान की नियत गणना ही विज्ञान के महत्व को बढ़ाता है। विज्ञान का प्रयोग मानवता के हित में यदि हो तो यह मानवता के लिए उचित है,

लेकिन आज विज्ञान के ही प्रयोग द्वारा धरती पर ऐसी ऐसी वस्तुएं निर्मित हो चुकी है जो कि मानवता के हित के लिए तो बिल्कुल भी सही नहीं है और न ही भविष्य में कभी हो सकता है। विज्ञान ने मानवता की भलाई के लिए ही अपना अस्तित्व बनाया था लेकिन आज के युग को देखकर ऐसा लगता नहीं है कि इसका उपयोग भलाई के लिये किया जा रहा है। विज्ञान, संसार का मानवता के लिए बहुत ही सुन्दर उपहार है, बेहतर होगा कि विज्ञान का उपयोग हम मानवता और संसार की भलाई के लिए ही करें।


  ” एक शिक्षक ही, किसी मनुष्य के चरित्र और भविष्य को आकार देता है। ” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | Quotes by Apj Abdul Kalam : एक शिक्षक की मनुष्य को आदर्श बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह करता है।  शिक्षक और शिष्य का सम्बंध कुम्हार औए मिट्टी के घड़े की तरह होता है, जिस प्रकार कुम्हार मिट्टी से घड़े को बनाने के लिए बहुत प्रयास करते हैं, तथा उसको अंदर से सहारा देकर बाहर से उसे निश्चित और सुंदर आकर देने के लिए तथा उसको मजबूत बनाने के लिये बाहर से पीटते हैं,

औऱ इन्हीं सब क्रियाओं के पश्चात एक सुंदर और मजबूत घड़ा बन कर तैयार हो जाता है, ठीक उसी प्रकार शिक्षक भी एक अज्ञानी को अपने उचित व्यवहार के साथ शिक्षा प्रदान कर उसे हर परिस्थितियों का सामना करने और सफलता प्राप्त करने के योग्य बनाते हैं। इस दौरान बहुत बार वे सख्ती से भी पेश आते हैं, लेकिन उनका मकसद हमें आहत करना नहीं बल्कि, एक घड़े के ही तरह सुंदर और सुडौल आकार प्रदान करना होता है।


  ” कभी कभी जीवन मे हास्य में किये गए अपराध जरूरी होते हैं, क्योंकि आगे चलकर ये ही अच्छी यादों में गिने जाते हैं। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Thoughts : हर कार्य को करने का एक समय होता है, जिस प्रकार एक बच्चे के सर्वांगीण विकास के लिए उससे हर प्रकार की गतिविधियों में भाग लेने के लिए कहा जाता है, तभी वह हर क्षेत्र में अपना शत प्रतिशत लगा पाता है, साथ ही उसका हर कार्य को करने का मन भी करता है, ठीक उसी प्रकार एक युवा व्यक्ति के लिए भी भिन्न भिन्न प्रकार की गतिविधियां करना आवश्यक होता है।

इससे उसका भी अपने मुख्य कार्य में मन लगा रहता है, नहीं तो वह एक कार्य करते करते ऊब जाता है। बचपन में खेल-कूद में की गई शरारते, बड़े होकर याद आती हैं, बचपन में तो सब बिना सोचे समझे ही किया जाता है, जो की समय बीतने के बाद एक अच्छी सी याद के रूप में मन में रह जाता है। बच्चों को हंसी ठिठोली, शैतानियां और खेल-कूद करने से कभी न रोकें, लेकिन यदि बच्चा गलत कार्य करने जा रहा हो तो उसको समझाना बहुत आवश्यक है।


  ” संसार मे दो तरह के लोग होते हैं, पहले युवा, दूसरे अनुभवी। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes on Education : हर किसी का संसार को देखने का अपना अपना नजरिया होता है, जब कभी 3-4 व्यक्ति किसी एक चीज को देखते हैं तो उस वस्तु को लेकर सभी के मन में अलग अलग विचार उतपन्न होने लग जाते हैं। इन्हीं विचारों से उसका दृष्टिकोण पता चल जाता है। कलाम जी का भी व्यक्तियों को देखने का अपना नजरिया था।

वे पूरे संसार के लोगों को  तो अनुभवी व्यक्ति अतवा युवा कहकर पुकारना पसन्द करते थे। यदि कोई व्यक्ति है, जो कि दूसरे लोगों के प्रति समर्पण होता है, वह ही असल मे युवा कहलाने लायक होता है। लेकिन कोई व्यक्ति यदि वृद्ध हो चुका है और उसके पास अब कोई कार्य करने की हिम्मत नहीं है, लेकिन उस व्यक्ति ने अपने समय में  ईमानदारी औऱ और कर्तव्यनिष्ठा से कार्य किया है, तो ऐसे व्यक्ति अनुभवी कहलाते हैं।


  ” हम अपनी आने वाली पीढ़ियों द्वारा तभी याद किये जाएंगे जब हम उनके लिए कुछ कर के जाएं। ” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : यदि हम वर्तमान में अपने सभी कर्तव्य पूरी निष्ठा से कर रहे हैं औऱ अपने जीवन में सदा ही कार्य को प्राथमिकता देते हैं तो निश्चित रूप से ही हमें सफलता प्राप्त होगी। सफलता प्राप्त करना कोई आसान कार्य नहीं है सफलता यदि मिल गयी तो आने वाली पीढ़ियां भी हमे याद करेंगी। लेकिन वे हमें याद तभी करेंगी जब हमने उनके लिए भी कुछ कार्य किये हों।

उनके लिए अपनी पूंजी और सिद्धांतों को बचाकर रखा ही, वास्तव में हमारी वास्तविक सफलता यही होगी कि आने वाले समय में हमारे कार्यों की वजह से आने वाली पीढ़ी भी हमारा सम्मान करे। लेकिन यदि हमने अपने जीवन में कुछ भी ऐसा नहीं करा है तो हम किसी भी सम्मान के हकदार नहीं है। हमारी आने वाली पीढ़ियां भी तब हमें कोसेंगी । यदि हम सफल हुए तो आगे की पीढ़ियां भी सफलता का अर्थ समझेंगी और सफल होती जाएंगी।


Quotes of APJ Abdul Kalam


  ” जो लोग ऊंचे-ऊंचे पदों पर कार्यरत रहते हैं, यदि वे लोग धर्म के विरुद्ध खड़े हो जाते हैं, तो धर्म ही उनके लिए विनाशकारी रूप धारण कर लेता है। “


अर्थात | Quotes of APJ Abdul Kalam : जो लोग ऊँचे ऊंचे पदों पर कार्यरत होते हैं, उन्हें सदैव सभी जाति,धर्म, सम्प्रदाय आदि के लोगो को अपने साथ मिलाकर चलना पड़ता है ताकि समाज में सन्तुलन की स्थिति बनी रहे। यदि कहीं पर भी कोई गलती हो जाती है तो किसी भी धर्म सम्प्रदाय के लोग ऐसा नहीं सोचेंगे कि यह सब गति से भी हुआ हो सकता है,

बल्कि वह इल्जाम आप पर ही लगेगा कि आप समाज को बिगाड़ने और उनके बीच अव्यवस्था फैलाने के जिम्मेदार आप ही है। जब कभी ऐसा होता है, तो धर्म एक रौद्र रूप धारण कर हमारे सामने उपस्थित होता है। जिससे कि न ही स्वयं का नुकसान होता है, बल्कि समाज की नजरों में भी गिरना पड़ता है। अतः यदि सामाजिक सन्तुलन आवश्यक है तो कृपया पहले खुद से प्रयास कर उस प्रयास को अपने में अच्छी तरह से बस कर समाज में लागू करना होगा।


  ” जो विद्यार्थी अपने आपको पूरे जगत से अलग दिखाने का प्रयत्न कर रहे हैं , संसार भी प्रयास कर रहा है कि वे सबसे अलग दिखें।”


अर्थात | Abdul Kalam Inspirational quotes : कुछ छात्रों में ऐसी विलक्षण प्रतिभा होती है कि बचपन मे ही वे अपने लक्ष्य को बनाकर उस पर चलने का फ़ैसला कर लेते हैं उन्हें पता होता है कि हमें अपने जीवन मे करना क्या है! ऐसे बच्चे अपने आपको सबसे अलग दिखाने का प्रयत्न करते हैं।

उनका यह प्रयत्न केवल उनकी तरफ से नहीं होता, बल्कि संसार में मौजूद प्रत्येक वस्तु उनकी मदद करने मे लग जाती है। सभी प्रयास करते हैं कि वे यदि सबसे अलग दिखना चाहते हैं तो उनकी यह मन्नत पूरी हो, जिस के पूरा होंने के बाद उनका आत्मविश्वास बढ़ता है और वे ऐसे कई मंज़िलों को प्राप्त कर सपने जीवन में सफल होकर दिखाते हैं।


  ” ईश्वर की संतान होने के नाते, जो भी हमारे साथ हो रहा है, हम उन सभी क्रियाओं से बड़े हैं।” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | APJ Abdul Kalam Thoughts : पूरा संसार ईश्वर द्वारा रचित है, हम भी ईश्वर की ही संरचना हैं। इसका अर्थ है कि, ईश्वर हमारे पिता समान हैं। हमारे ही नहीं संसार मे जितनी भी वस्तुएं हैं, ईश्वर सभी के पिता ही हैं । इसका अर्थ यह है कि संसार में जो कुछ भी हो रहा है वह सब ईश्वर द्वारा ही किया जा रहा है, हमारे साथ जितनी भी घटनाएं होती हैं ,

सभी ईश्वर द्वारा ही संचालित होती हैं और ईश्वर की संतान होने के नाते हमारा यह कर्तव्य हैं की हम उन सभी कार्यों में सफल होकर दिखाएं। ईश्वर की संतान होने के कारण हम उन सभी घटनाओं , जो कि हमारे साथ घटित हो रही हैं उनसे स्वयं को नहीं आंकना चाहिए क्योंकि हम उन सभी घटनाओं से परे हैं।


  ” वर्तमान में सभी वैज्ञानिक कार्य अंग्रेजी भाषा मे होते हैं, जब ये कार्य हमारी भाषा में शुरू होंगें तब हम भी जापानियों की तरह आगे बढ़ पाएंगे। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : जापान को कितने ही बार प्राकृतिक आपदाओं ने घेरा, इतना ही नहीं, विश्व में होने वाली गतिविधियों के कारण जापान को बहुत ही अधिक क्षति उठानी पड़ी। परमाणु हमलों के बाद तो, यह बिल्कुल भी नहीं कहा जा सकता था कि, जापान अब फिर कभी आबाद हो पाएगा।

लेकिन वहां के लोगों की देशभक्ति, कर्तव्यपरायणता, और समर्पण के कारण शीघ्र ही जापान ने तरक्की की और इसकी रफ्तार इतनी तेज थी कि संसार का कोई भी देश उसकी बराबरी नहीं कर सकता। इसका कारण यह भी है, कि वे कभी भी दूसरों पर निर्भर नहीं रहे और आक्रोश या फिर बदले की भावना उनके मन में नहीं थी। यदि हमारे देश में भी इसी प्रकार के लोग होने लग जाएं तो हमारा देश भी शीघ्रता से उन्नति के मार्ग पर अग्रसर होगा और जापानियों की तरह ही देश को शीघ्रता से आगे बढ़ाने का प्रयत्न करेगा।


  ” यदि कुछ आवश्यक बातों का पालन किया जाए तथा एक निश्चित लक्ष्य बनाया जाए तो, कुछ भी हांसिल किया जा सकता है ।”


अर्थात | Quotes of APJ Abdul Kalam : यदि अपने जीवन का उचित लक्ष्य बनाकर, उस के लिए एक निश्चित कार्यसूची तैयार कर के उसका निरन्तर अनुसरण किया जाए और अपने लक्ष्य के प्रति थोड़ी सी आत्मीयता और कर्तव्यनिष्ठा प्रस्तुत की जाए, तो कितना ही बड़ा लक्ष्य क्यों न हो, उसे पूरा कर प्राप्त किया जा सकता है।

यदि मन के विचार और परिश्रम साथ हो तो जीवन की किसी भी कठिनाई से निकल जा सकता है फिर चाहें वह बहुत बड़ा और कठिन लक्ष्य प्राप्त करना ही क्यों न हो। अपने विचारों और कुछ करने की भावना को इतना प्रगाढ़ बनाना चाहिए, कि रास्ते में आई छोटी छोटी कठिनाई उस मन के विश्वास को तनिक भी विचलित न कर सके, तभी हम अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में विजयी हो सकते हैं।


APJ Abdul Kalam Quotes on Education


  ” अर्थव्यवस्था के कारण सभी को शाकाहारी बनना पड़ता है लेकिन बाद में यह अच्छा लगने लगता है। ” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | Quotes by Apj Abdul Kalam : संसार में कोई अमीर है तो कोई गरीब। अमीर लोगों का जीवन तो उचित रूप से व्यतित हो ही जाता है, लेकिन जो गरीब लोग होते हैं उन बेचारों के लिए सुख -शांति से जीवन यापन करने बहुत ही कठिन होता है। जिसके कारण उसे अपनी आवश्यकताओं को पूर्ण करने में असफलता ही प्राप्त होती है।

उसके लिए तो दो समय का भोजन ही यदि उचित ढंग से मिल जाए तो पर्याप्त होता है।  इंसान गरीब पैदा जरूर होता है, लेकिन यदि वह कठिन परिश्रम करे और मन मे गरीबी हटाने की दृण इच्छा हो तो वह अपने कर्मो के माध्यम से संसार में सम्मान और धन दोनों को ही प्राप्त कर सकता है। संसार में सब मेहनत का ही खेल है, यदि मेहनत करी तो ही फल की प्राप्ति होती हैं। अन्यथा जो अपने कर्मों से बचेगा वह अपनी स्थिति को सुधारने में कभी सफल नहीं हो पाएगा।


  ” भारत को किसी की भी छाया की जरूरत नहीं है, क्योंकि हमारे पास स्वयं के विकास का प्रतिरूप उपस्थित है।


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes on Education : हमारी धरती ऋषि-मुनियों की धरती कहलाई जाती है। यहां ऐसे ऐसे महान वीरों का जन्म हुआ है, जो कि बहुत ही दुर्लभ हैं। हमारे राष्ट्र को एक विकसित राष्ट्र बनाने के लिए किसी की सहायता की कोई जरूरत नहीं है, हम अपनी सहायता स्वयं कर सकते हैं। हमारा विकास हम पर ही निर्भर है।

गुलामी की जंजीरों से आजाद होने के बाद हमने जिस प्रकार स्वयं को बनाया, देश को बनाया, यह सफर बिल्कुल भी आसान नहीं था। बल्कि हमें इस में किसी के सहारे की भी आवश्यकता नहीं पड़ी। यदि इसी प्रकार चलता रहा तो हम भी एक विकसित देश का निर्माण अपने बल पर कर सकते हैं। लेकिन ऐसा तभी सम्भव है जबकि राष्ट्र के लोग एकजुट होकर कार्य करें।


  ” उत्कृष्ट होना एक सतत प्रक्रिया है, कोई दुर्घटना नहीं। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : स्वयं को दूसरों से बेहतर समझना उचित है, लेकिन यह पर्याप्त नहीं है। क्योंकि स्वयं को बेहतर समझना औऱ बेहतर होना दोनों ही दो अलग अलग बातें हैं। यदि हम केवल समझते हैं कि हम दूसरों से बेहतर है तो यह हमारी सबसे बड़ी मूर्खता है। यदि हम अपनी महानता अपने कार्यों से दर्शाते हैं, तब ही हम सही अर्थों में महान कहलाएंगे।

हमारी उत्कृष्टता हमारे कार्यों से होती है, न कि केवल बोल देंने से। स्वयं को उत्कृष्ट बनाना कठिन है, लेकिन असम्भव बिल्कुल नहीं । यदि हम अपने सभी कर्तव्यों को उचित ढंग से निभाएं और अपने सभी कर्तव्यों का पालन करें तो हम भी उत्कृष्ट बन सकते हैं। अपनी उत्कृष्टता को बनाना, और इसे निरन्तर बनाए रखना बहुत ही आवश्यक है, इस कार्य में कोई अर्चन डाले उसको भी अपने मार्ग से हटा देना चाहिए। क्योंकि जो हम कर रहे हैं वह एक सतत प्रक्रिया ही है जो हम कर रहे हैं, वह कोई दुर्घटना नहीं होगी।


  ” शिक्षाविदों को अपने छात्रों में उत्कृष्टता की भावना डालकर उनके लिए आदर्श बन जाना चाहिए। ” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | APJ Abdul Kalam Thoughts : शिक्षक यदि महान होंगे तो, वे ही शिष्यों को  महान बनाने में सफल हो सकेंगे। शिक्षकों को आप के छात्रों को उत्कृष्ट बनाना होगा। यह कार्य बहुत कठिन होता है, लेकिन एक अध्यापक ही इस कार्य को उचित ढंग से कर सकता है। अध्यापक द्वारा शिष्यों को कोई बात समझाने के लिए कई कक्षाएं चलाई जाती है,तांकि वह उच्चस्तर की बातों को जल्दी को ग्रहण कर सके।

वह कभी प्रेम पूर्वक छात्रों को समझाता है, कभी सख्ती से, आवश्यकता पड़ने पर वह बल का प्रयोग भी करता है तब जाकर वह किसी छात्रों के मन में उचित प्रकार की शिक्षा को दाल पाता है। जब यह सब कार्य खत्म हो जाता है और छात्र सफल हो जाता है तो इसका श्रेय उसके माता-पिता से अधिक उस शिक्षक को जाता है, जिसने उसके ऊपर बहुत मेहनत की। ऐसा करने से शिक्षक स्वयं दूसरों के और छात्रों के भी आदर्श बन जाते हैं।


Quotes by APJ Abdul Kalam


  ” सुंदरता हृदय में होती है, न कि चेहरे में।”


अर्थात | Quotes of APJ Abdul Kalam : व्यक्ति हमेशा ही अपने कार्यों की वजह से महान कहलाता है। यदि कोई कर्मप्रधान व्यक्ति होगा तो उसका लोग स्वतः ही सम्मान करने लगते हैं। केवल चेहरा सुंदर होना पर्याप्त नहीं है। चेहरे की सुंदरता कार्यों और सफलता से बिल्कुल भी नहीं जुड़ी होती है। सुंदर चेहरा किसी को बस आकर्षित करने के काम आता है, लेकिन अच्छे कार्य से लोग आकर्षित ही नहीं बल्कि प्रभावित भी होते हैं।

यदि किसी के पास सुंदर चेहरा अच्छे कार्य करने की क्षमता, औऱ सभी प्रकार के गुण है तभी उस सुंदर चेहरे का कोई मोल है, अन्यथा इन विशेताओं के अभाव में किसी भी चेहरे का सुंदर होना पर्याप्त नहीं है। सुंदरता कार्य में होनी चाहिए। किसी भी कार्य को इतने उचित ढंग से करना चाहिए कि, लोग कार्य से प्रभावित हो जाएं तभी आपकी मेहनत सफल होती है। अपना पूरा ध्यान कार्यों की कुशलता से होने में केंद्रित करना चाहिए।


  ” यदि किसी देश को सुंदर मन और द्वेषरहित बनाना है तो यह कार्य संसार मे केवल तीन लोग ही कर सकते हैं, जो हैं माता-पिता और गुरु। “


अर्थात | Abdul Kalam Inspirational quotes : माता-पिता और गुरु सभी के जीवन के वो तीन स्तम्भ होते है जो कि व्यक्ति को कभी गिरने नहीं देते, और सदा ही उचित मार्ग दिखाकर उनका मार्गदर्शन करते हैं। यदि किसी राष्ट्र की बागडोर इनके हाथों में दे दी जाए, तो राष्ट्र का विकास निश्चित तौर से सम्भव है वो भी किसी हानि के बिना।

जिस प्रकार माता-पिता अपनी संतान को संवारने के लिए प्रेम और कभी कभी बल,बक प्रयोग करते हैं ठीक उसी प्रकार शिक्षक भी एक छोटे बालक को कुछ शिक्षा देने में उसी प्रकार से प्रेम औए बल दोनो का ही प्रयोग करता है, यदि इसी प्रकार की गतिविधियों को पूरे राष्ट्र में कराई जाए तो पूरा राष्ट्र बिना किसी  द्वेष के संचालित हो सकता है जिसके लिए हमारे जीवन के तीन स्तम्भ पर्याप्त है।


  ” हमें कभी हार नहीं माननी चाहिए, और हमें अपने मार्ग में आई सम्याओं को खुद ही सुलझाने का प्रयास करना चाहिए। “


अर्थात | Quotes by Apj Abdul Kalam :हमें कभी भी अपने कर्तव्यों से पीछे नहीं हटना चाहिए , चाहें मार्ग में कितनी ही कठिनाइयों का सामना हमें क्यों न करना पड़े। यदि हमें सफलता प्राप्त करनी है तो अपने मार्ग में आई कठिनाइयों से भी हमें स्वयं ही लड़ना होगा। क्योंकि केवल हम ही अपने कार्यों को पूर्ण करने के लिए उस समर्पण से कार्य करते हैं जो कि हमारे कार्य को कोई भी और उस प्रकार से नहीं कर सकता।

अतः अपनी सफलता के ये भी हमें ही कार्यरत होना पड़ता है। अपने हर कार्य को पूरा करने के लिए हमें जी-जान से मेहनत करनी पड़ेगी तभी हर कार्य सम्पन्न कर के हम सफलता को प्राप्त कर सकते हैं। सफलता पाना बहुत कठिन नहीं है, यदि आप अपने मन को संतुलित कर उसको एक निश्चित दिशा में चलने का आदेश देंगे तो निश्चित रिप से आप सफलता पाने के अधिकारी है।


  ” युवाओं में अलग सोच रखने का साहस , नए रास्तों पर चलने का साहस और आविष्कार करने का साहस भी होना चाहिए। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : एक कर्मठ युवा में अपनी अलग सोच होनी चाहिए जिससे कि वह देश को प्रगति के मार्ग पर अग्रसित कर सके। जीवन में सफलताएं पाने के लिए हमें स्वयं ही प्रयास करने होते हैं फिर यदि राष्ट्र की बात हो तो हम सब कुछ भूल कर राष्ट्र के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को निभाने से कभी पीछे नहीं हटते। किसी भी युवक में जो राष्ट्रनिर्माण में अपनी भूमिका निभाना चाहता है,

उसे अपने शरीर में ही नहीं बल्कि मन औऱ विचारों में भी महत्वपूर्ण बदलाव करने होंगे। शरीर मजबूत होगा, तभी वह अपने सामने आई परिस्थितियों से मुकाबला कर सकता है। विचारों को भी एक नई दिशा में उसे अग्रसित करना होगा जिससे कि कोई भी उसको भटकाने का प्रयास न कर सके। अपने लिए नए मार्गों को बनाकर उस में ही अपनी सींचि गयी योजनाओं के अनुसार चक्र वह अपने राष्ट्र को उन्नति के मार्ग में अग्रसर कर सकता है।


  ” जीवन मे नकारात्मकता जैसा कुछ नहीं है। “


अर्थात | Abdul Kalam Inspirational quotes : जीवन से नकारात्मक चीजों और सम्पूर्ण नकारात्मकता को दूर करने के लिए किसी भी मनुष्य को स्वयं को और अपने मस्तिष्क को एक उचित और सकारात्मक दिशा में कार्यरत कराना होगा। जीवन में नकरात्मता केवल हमारे मन का भरम होता है। जो कि हम स्वयं किसी चीज के बारे में फिजूल का सोचकर ही बना लेते हैं। होगा वही जो होने वाला है।

लेकिन नकारात्मक सोच से हम उस सोची हुई चीज को अपनी ओर आकर्षित करने में लग जाते हैं और फिर सब गलत होते होते रह जाता है। हमारे अंदर अपनी सोच से वस्तुओं को आकर्षित करने की क्षमता होती है, अतः यदि हम सकारात्मक सोच रखते हैं तो हम उन्हीं चीजों पर ध्यान लगते हैं जो कि हमे आनन्द प्रदान करतीं है, हम उसके लिए उचित प्रयास करते हैं और अपने प्रयासों के बाद हम उसको पाने में सफल भी हो जाते हैं।


Abdul Kalam Inspirational Quotes


  ” यदि हम स्वतंत्र नहीं होते तो हमारा कोई भी आदर नहीं करता ।” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | APJ Abdul Kalam Thoughts : जब हमारा देश ग़ुलामी की जंजीरों से जकड़ा हुआ था तब बाहर का कोई भी हमारे देश में आकर हमारी क्षमताओं और धन वैभव का गलत उपयोग करके अपने को शक्तिशाली समझने लगता था। ऐसा इसलिए भी होता था क्योंकि हमारे देश के लोगों में एकता का अभाव था। और लोग हमारी इस ही कमजोरी का फायदा उठाते थे।

उस समय यदि देश के लोग समझदार होते तो हमारे देश को उतनी बड़ी क्षति पहुंचाने की कोई हिम्मत नहीं करता। उस समय कोई भी हमारा आदर नहीं करता था। लेकिन आज हम स्वतंत्र है, हमें अपनी स्वतंत्रता की रक्षा करना भी सिखाया गया है। इसी कारण अन्य राष्ट्र हमारा आदर भी करते हैं और पहले जैसा कृत्य करने से डरते भी हैं। इस प्रकार हमें अपनी स्वतंत्रता को बनाए रखना होगा। तांकि सभी लोग हमारा आदर करें।


  ” क्षमता का निर्माण करना भेद-भाव को नष्ट करता है, इससे असमानताएं खत्म हो जाती है। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes on Education : किसी भी प्रकार की क्षमता उसके अनुरूप कार्य और प्रगति को प्राप्त करने में हमारी सहायता करती है। क्षमता ऐसे ही उतपन्न नहीं होती इसके लिए हमे प्रयास करना पड़ता है हमारे प्रयासों से ही यह क्षमता उतपन्न हो पाती है, यह प्रयास किसी एक व्यक्ति के कारण नहीं होता,

यह तो समुचित राष्ट्र को अपने देशप्रेम के लिए करना पड़ता है म इस कार्य में पूरे देशवासियों को मिलकर अपना सहयोग देना पड़ता है और इस सहयोग के कारण ही पूरा देश एक हो रंग में रंगकर कार्यों को संचालित करता है। क्षमता को उतपन्न होने के कारण से ही भेद-भाव, जातिवाद,  आदि सब मिटाकर एक नया अध्याय प्रारम्भ होता है जिस में कोई भी भेद-भाव नहीं होता और सब समान होते हैं।


  ” किसी भी मिशन की सफलता के लिए रचनात्मक नेतृत्व बहुत आवश्यक है। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : यदि किसी कार्य को सफलता के लिए कोई योजना की रचना की गई है, तो उसके लिए एक समूह बनाकर उचित योजना के द्वरा कार्य किया जाना बहुत ही आवश्यक है। यदि योजना की सफलता महत्वपूर्ण है, तो उसके लिए योजना को संचालित करने के लिए एक उचित नेतृत्व और मार्गदर्शन की भी आवश्यकता होती है।

यह नेतृत्व रचनात्मक होना चाहिए नहीं तो कार्यशैली को आसानी से लोगों द्वारा पकड़ा जा सकता है। इसके लिए तो सटीक और क्रमबद्ध तरिके से कार्य करने की आवश्यकता होती है। तभी कार्य और योजना का सफल होना सुनिश्चित किया जा सकता है। लेकिन यदि योजना सही है, नेतृत्व भी उचित है, समूह में अच्छे कर्मठ लोग हैं तो योजना की सफलता अवश्य होती है।


  ” कोई भी देश लोगों से मिलकर बना हुआ होता है, उन्हीं लोगों की सहायता से वह देश जो कुछ भी चाहें प्राप्त कर सकते हैं। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : एक विकसित राष्ट्र बनाने के लिए उन मूल्यों की आवश्यकता होती है जो कि राष्ट्र की एकता औऱ सम्प्रभुता को बनाए रख सके। देश की एकता और अखंडता को बनाए रखने के लिए देश के नागरिकों को ही प्रयास करने होंगे जिससे कि देश की वैचारिक स्वस्थता भंग न हो और देश उचित रूप से विकास के मार्ग पर चलता रहे।

हमारा सदैव यही प्रयास रहना चाहिए कि, हम भी अपने देश को आगे बढ़ाने के लिए कुछ भी कर जाएं। यदि देश के सभी लोगों में इस प्रकार की भावना उतपन्न हो जाती है, तो वह देश चाहें तो कुछ भी प्राप्त कर सकता है, तब कोई भी कार्य उसके लिए असम्भव नहीं होगा । बस किसी भी कार्य को संचालित करने से पहले एकता का प्रमाण होना आवश्यक है।


  ” ईश्वर द्वारा हमें प्राप्त शक्तिया हमे हर कार्य को सम्पन्न करने में सहायक होती है। ” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | APJ Abdul Kalam Thoughts : ईश्वर ने हमें बहुत सी शक्तियों को दिया है, वे शक्तियां जो कि हमारे किसी भी कार्य को करने के लिए आवश्यक होती हैं। उन शक्तियो के कारण ही हम अपने जीवन में आगे बढ़ने का प्रयास करते हैं ऐसा नहीं है कि वे शक्तियां प्रत्यक्ष होती है, इन शक्तियों को देख नहीं जा सकता यह हमारे अंदर समाहित होती हैं।

इस शक्तियों की सहायता से हम किसी भी मुश्किल कार्य को आसानी से कर सकते हैं। और अपने कार्य में सफलता भी प्राप्त कर सकते हैं। हम सभी ईश्वर की रचनाएं है, हमारे अंदर भी ईश्वर का अंश विद्यमान है अतः हम जो भी कार्य करते हैं उसमें ईश्वर हमारे साथ होते हैं। इसलिए कोई भी कार्य ईश्वर का नाम लेकर शुरू कर देना चाहिए, उसको पूरा करने के लिए ईश्वर ही हमारी सहायता करने के लिए हमारे साथ होंगे।


A. P. J. Abdul Kalam Quotes in Hindi


  ” जब तक कि किसी ने असफलता का कड़वा घूँट न पिया हो, वह सफलता की महत्वकांक्षा को नहीं समझ सकता । “


अर्थात | Quotes of APJ Abdul Kalam :असफलता मिलना सफलता के मूल्य कप बड़ा देती है। किसी भी व्यक्ति के लिए असफलता किसी भी अपमान से कम नहीं होती। लेकिन कभी कभी असफलता मिलना उचित होता है, क्योंकि असफलता मिलने पर ही हम सफलता पाने के लिए और अधिक प्रयास करते हैं और अपने प्रयासों को तब तक जारी रखते हैं,

जब तक कि हम उस कार्य को करने में सफल नही हो जाते। सफलता प्राप्त करना अपने सफलता प्राप्त करने के प्रयासों पर निर्भर करती है। सफलता एक ऐसी चीज है, जो कि किसी व्यक्ति को समाज में सम्मनित करने के लिए पर्याप्त होती है। यदि आप कभी भी असफल नहीं हुए हैं तो इसका मतलब यह है कि आपने अपने जीवन में कोई भी बड़ी शिक्षा ग्रहण ही नही की है और आपको सुर अधिक प्रयत्नों की आवश्यकता है।


  ” भविष्य में सफलता के लिए  क्रियाशीलता आवश्यक है, और प्राथमिक शिक्षा वह मंच है, जब शिक्षक अपने छात्रों में यह डाल सकते हैं। “


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes on Education : कोई भी प्रकार का प्रयास शून्य से ही प्रारम्भ किया जाता है। अतः यदि आप शून्य पर हैं तो यह चिन्ता का विषय नहीं है इसका अर्थ यह है कि आप अभी किसी भी चीज के लिए प्रयास की शुरुआत कर सकते हैं। पर यदि आप प्रयासरत है और अपने आधे रास्ते से ही प्रयास को छोड़ दिया तो यह गलत है और चिंता का बिषय भी,

क्योंकि इसके बाद आपको दुबारा से शून्य से शुरुआत करनी होगी। यह शिक्षा देने वाले और हमे सब कुछ सीखाने वाले हमारे गुरु होते हैं और यदि प्रारम्भिक शिक्षा के गुरु हमारा आधार मजबूतकर देते हैं तो हम किसी भी कठिनाई और चुनौतियों का सामना करने के लिए सज्ज हो जाते हैं।


  ” युवाओं को नौकरी चाहने वाला नही, बल्कि नौकरियां देने वाला बनना होगा, तभी देश विकास कर पाएगा। ” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | Abdul Kalam Inspirational quotes : यह हमारे वश में होता है कि, हम स्वयं को क्या बनाना चाहते हैं। हम चाहें तो स्वयं को कुछ भी बना सकते हैं। यह हमारा निर्णय होगा, की हम क्या चाहते हैं हम किसी के सामने हाथ फैलाकर मदद मांगने वाले बन सकते हैं ,

अथवा अपना हाथ बढ़ाकर दूसरों की सहायता भी कर सकते हैं। परन्तु किसी की सहायता करना कोई आसान कार्य नहीं है इसके लिए पहले हमें स्वयं को उस योग्य बनाने होगा जिससे कि हम दूसरों की सहायता कर सकें। यदि हमारे इरादे पक्के और निःस्वार्थ है तो हम निश्चित ही अपने कार्य में सफल हो सकते हैं।


  ” अपनी पहली सफलता के बाद कभी विश्राम करने के लिए मत रुकिए। क्योंकि यदि आप दुसरी बार असफल हुए तो लोग यही कहेंगे कि आपकी पहली सफलता केवल तुक्का थीं।”


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes on Education : यदि आपने एक बार सफलता प्राप्त कर ली है तो उस प्राप्त सफलता से अधिक प्रसन्न होने की कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि यदि आप उस पहली प्रसन्नता से स्वयं को संतुष्ट कर लेंगे तो बाद की चुनौतियों के लिए आप सज्ज नहीं होंगे ।आपको स्वयं को समझाने की कोशिश करनी होगी कि आप अपने जीबन में क्या चाहते हैं ,

और किस कारन से अपने वह कार्य शुरू किया था। यदि आप अपनी पहली सफलता के बाद थोड़ा भी रुके तो आप अगली सफलता के लिए अपने प्रतियोगियों से हार जाएंगे क्योंकि उन लोगों ने आपके रुके हुए समय में भी अपबे लिए तैयारी की । यदि आप पहली सफलता के बाद असफल हो गए तो लोग भी यही सोचेंगे कि पहली सफलता भी यूं ही तुक्के से हुई होगी।


  ” नकली सुख की अपेक्षा कठिन उपलब्धियों को प्राप्त करने के प्रति समर्पित रहना चाहिए। ” – ए पी जे अब्दुल कलाम


अर्थात | APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi : क्षणिक सुख की अपेक्षा एक लंबे और लंबे समय तक रहने वाले सुख की कामना करनी चाहिए, यह ही आपको जीवन में अधिक सुख दे सकता है और प्रसन्न भी रख सकता है। क्योंकि सुख और दुख ही जीवन के दो पहिये होते हैं जो कि समान रूप से चलते रहते हैं। दुख होने के बाद ही, सुख के आनन्द का अनुभव होता है।

यदि जीवन में सुख ही सुख होगा तो जीवन मे कुछ भी सामान्य नहीं होगा और जीवन का संतुलन भी बिगड़ जाएगा। अतः जीवन में सुख के पीछे नहीं भागना चाहिए बल्कि उपलब्धियों को प्राप्त करने में अपना समय व्यय करना चाहिए। जिससे कि सुख अपने आप हमारे जीवन में उपलब्धियों के साथ आ सके।


Conclusion


आज आपने पढ़े APJ Abdul Kalam Quotes in Hindi. आशा करते हैं, आपको अब्दुल कलाम के इन विचारों से बहुत कुछ सींखने को मिला।

APJ Abdul Kalam Thoughts ऐसी ही अन्य जानकारीपूर्ण और इन्टरस्टिंग पोस्ट पढ़ने के लिए बने रहिये, sarkaariexam के साथ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.