हाथी और चींटी की कहानी हिंदी मे | New Elephant and Ant Story in Hindi

आज हम देखेंगे, हाथी और चींटी की कहानी हिंदी मे, आशा है आपको यह कहानी पसन्द आएगी। और इस Elephant and Ant Story in Hindi से बहुत कुछ सीखने को मिलेगा।


हाथी और चींटी


हाथी और चींटी की कहानी


एक बार की बात है, एक जंगल मे एक हाथी रहा करता था, हाथी बहुत अधिक बलवान और शक्तिशाली था। शक्तिशाली होने के कारण वह अपने आप को जंगल का राजा मानता,

और सभी अन्य जानवरों और कीड़े मकोड़ों को परेशान करता था। कभी कभार जब हाथी को गुस्सा आता, तब वह जानवरों को मार भी देता था।

उसी जंगल मे एक शेर रहता था, शेर बहुत अधिक बूढ़ा होने के कारण हाथी का सामना नहीं कर पाता था, ऐसे में शेर ने हाथी को सबक सिखाने के लिये जंगल मे एक सभा बुलाई।

सभा मे सभी जानवर, कीड़े मकोड़े, और पक्षी आये। शेर ने सभी के सामने हाथी से मुकाबला करने का प्रस्ताव रखा, की जो भी हाथी से मुकाबला कर उसे जंगल से भगा देगा, उसे जंगल मे सर्वश्रेष्ठ जीव की उपाधि मिलेगी।

परन्तु सभी जंगल के जीव हाथी की ताकत को जानते थे, किसी ने भी हाथी से सामना करने से मना कर दिया। ऐसे में आखिर में चींटी ने शेर से कहा,

राजन अगर आपकी आज्ञा हो तो हाथी से में सामना करूंगी। चींटी की इस बात पर सभी जीव जंगल के हसने लगे। शेर भी नन्ही सी चींटी को यह कहता देख मुस्कुराते हुए बोला, तुम उसका सामना नही कर सकती।

चींटी ने शेर से कहा, आप मुझे एक मौका दीजिए मैं अपने को सही साबित करकर दिखाउंगी।

ऐसे में शेर ने चींटी को एक मौका दिया।

चींटी शाम को हाथी के आशियाने में गयी, हाथी सो रहा था, चींटी हाथी के कान में घुस गई, और उसने उसके कान में जोर से काट दिया।

चींटी ने हाथी के कान में इतनी जोर से काट की, हाथी उस जंगल से चिल्लाता हुआ भाग खड़ा हुआ, और उस जंगल मे फिर कभी दिखाई नहीं दिया।

यह बात जानकर जंगल मे उस चींटी को सर्वश्रेष्ठ जीव और सबसे ज्यादा साहसी जीव की उपाधि मिली।


सीख | Elephant and Ant Story in Hindi- किसी को भी छोटा, बड़ा नहीं समझना चाहिए। कोई भी छोटा बड़ा अपने काम से होता है,न कि शरीर से।

Also Read : प्यासे कौवे की कहानी


आज आपने पढ़ी हाथी और चींटी की कहानी हिंदी मे, आशा है, यह कहानी आपको पसन्द आयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.