शेर और चूहा की कहानी | {New} Sher aur Chuha Story in Hindi with Moral

आज हम पढ़ेंगे शेर और चूहा की कहानी। आशा है, आपको यह कहानी पसन्द आएगी, और इस Sher aur Chuha Story in Hindi से बहुत कुछ सीखने को मिलेगा।


शेर और चूहा की कहानी


शेर और चूहा की कहानी


एक बार की बात है, एक जंगल मे एक शेर रहता था, शेर बहुत सीधा साधा और किसी को परेशान न करने वाला था। एक दिन शेर अपने गुफा में आराम कर रहा था, तभी कहि से एक चूहा खेलता हुआ आया, और शेर के ऊपर कूदने लगा।

शेर के ऊपर कूदकर चूहे को बेहद मज़ा आ रहा था, जैसे ही शेर की नींद खुली, शेर उठकर बैठ गया, और चूहे को अपनी मुट्ठी में जकड़ लिया।

यह देखकर चूहा बेहद डर गया, शेर से माफी मांगने लगा, चूहा बोला, शेर दादा मुझे नहीं पता था, की आप हो, मैं तो ऐसे ही खेल रहा था, मुझे माफ़ कर दो। मैं भी आपके एक दिन काम आऊंगा।

यह सुनकर शेर जोर जोरसे हसने लगा, और बोला, तू इतना छोटा है, तू मेरी क्या मदद करेगा। लेकिन तूने मुझे हसाया है, इसलिए में तुझे छोड़ रहा हूँ।

जा मौज कर। चूहा शेर का धन्यवाद कहकर खुशी से अपने घर चला गया।

एक दिन चूहा, शेर की गुफा के बाहर खेल रहा था, तभी अचानक शेर के जोर जोर से दहाड़ने की आवाज चूहे को सुनाई दी, चूहा जल्दी से भागकर शेर के पास पहुचा, उसने देखा शेर शिकारियों के जल में फस चुका है।

तभी चूहे ने पूरा जाल काट दिया, और शेर आजै हुआ, शेर ने कहा, वाकई में जो तुमने कहा, वह किया भी। धन्यवाद।

इस दिन से दोनों दोस्त बन गए। और एक साथ रहने लगे।

Also Read : Hindi Animal Stories


सीख | शेर और चूहा- किसी को छोटा या बड़ा नहीं समझना चाहिए।


आज अपने पढ़ी शेर और चूहा की कहानी। आशा है, आपको यह कहानी पसन्द आयी। और इस Sher aur Chuha Story in Hindi  कहानी से कुछ नया सीखने को मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published.